Beautiful Dosti Shayari With Images

0
92
Beautiful Dosti Shayari With Images

Beautiful Dosti Shayari With Images

Looking Beautiful Dosti Shayari With Images, Friendship shayari With image, mast Dosti shayari , shayari in english with images for girlfriend & boyfriend these Beautiful Dosti Shayari With Images collections are dedicated for you. Beautiful Dosti Shayari With Images for boys, girls Shayari in Hindi and lots of more Beautiful Dosti Shayari With Images.

उनके कर्जदार और वफादार रहिए जो आपके लिए अपना वक्त देते हैं!
क्योंकि अंजाम की खबर तो कर्ण को भी थी…
पर बात दोस्ती निभाने की थी!


Beautiful Dosti Shayari With Images
बरसों बाद कॉलेज के कैंटीन में गया,
चाय वाले ने पूछा कि चाय के साथ क्या लोगे,
मैंने कहा पुराने दोस्त मिलेंगे!!


हर दुआ कबूल नहीं होती, हर आरजू पूरी नहीं होती,
जिनके दिल में आप जैसे दोस्त रहते हो,
उनके लिए धड़कन भी जरूरी नहीं..


कितने कमाल की होती है ना दोस्ती…..
वजन होता है…लेकिन बोझ नही होती…..


अपनी जिंदगी के अलग असूल है
यार की खातिर तो कांटे भी कबूल हैं,


दोस्ती में ना कोई वार, ना कोई दिन होता है,
ये तो एहसास है जिसमें बस यार होता है!!


जाओ ढूंढ लो हमसे ज्यादा चाहने वाला दोस्त
मिल जाए तो खुश रहना
ना मिले तो डूब के मर जाना….


Ek Baat Yaad Rakhna Har Kisi Ko
Tang Karne Wale Dost Nahi Milte…


क्या खूब था वह बचपन भी
जब 2 उँगलियाँ जोड़ने से
दोस्ती हो जाती थी..


ना gaadi ना bullet
ना ही रखे हथियार
एक है सीने में जिगरा
और दूसरे जिगरी यार…….!!


कभी-कभी हम अपने Bestie को देखकर
सोचते हैं जिससे इसकी शादी होगी
उसका क्या होगा!!



Beautiful Dosti Shayari With Images
एक दोस्त के साथ अंधेरे में चलना,
अकेले रोशनी में चलने से कहीं बेहतर है!!


लकीरें तो हमारी भी बहुत ख़ास है…
तभी तो तुम जैसा दोस्त हमारे पास है…!!


दोस्ती में ही “ताकत” है साहेब..

“समर्थ” को झुकाने की…

बाकी “सुदामा” में कहाँ ताकत थी..

“श्रीकृष्ण” से पैर धुलवाने की…!


खता मत गिन दोस्ती में,
कि किसने क्या गुनाह किया..
दोस्ती तो एक नशा है,
जो तूने भी किया और मैंने भी किया..


मित्र सिर्फ साथी ही नहीं

सारथी भी होना चाहिये.


Dosti ek afsana hai ,,

apnaya toh apna hai,,bhool gaya toh sapna hai.


हर वक़्त फ़िजाओं में,
“महसूस करोगे तुम !
#मेरे दोस्त#
हम दोस्ती की वो ख़ुशबू हैं,
जो महकेंगे ज़मानों तक !!


जिंदगी में कुछ दोस्त Close बन गये,
कोई दिल में तो कोई आँखों में बस गये,
कुछ दोस्त अहिस्ता से बिछड़ते चले गये
पर जो दिल से ना गये वो आप बन गये,


#जब भी दोस्ती के पुराने पन्ने पलट
कर याद करता हु,,#
#तो तेरी-मेरी बचपन की दोस्ती
की कहानी याद आती हैं,#


सवाल पानी का नही प्यास का है
सवाल मौत का नही साँसो का है
दोस्त तो बहुत है दुनिया में
मगर सवाल दोस्ती का नही विश्वास का है
true friends


Beautiful Dosti Shayari With Images
दोस्तों की दोस्ती में कभी कोई रूल नहीं होता है
और ये सिखाने के लिए, कोई स्कूल नहीं होता है


हमारे लिए वही #दोस्त सबसे खास होता है…
जिसके बारे में घर वाले बोलते है,
इसके साथ दोबारा दिखा तो तेरी #टांगे तोड़ देंगे


दौर-ए-गर्दिश में भी,
जीने का मज़ा देते है…
चंद दोस्त हैं जो वीरानों में भी,
महफ़िल सजा देते है…
सुनाई देती है अपनी हंसी,
उनकी बातों में…
दोस्त भी अक्सर,
जीने की वजह देते हैं…


बेशक थोड़ा इंतज़ार मिला हमको,

पर दुनिया का सबसे हसीं यार मिला हमको,

न रही तमन्ना अब किसी जन्नत की,

तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको |


पहले 20 रुपये की लेदर बॉल के लिए 11 दोस्त पैसे इकट्ठे करते थे,
आज बॉल तो अकेला ला सकता हूँ ,मगर 11 दोस्त इकट्ठे नही होते !😊



जितनी_इज्जत_खुदा_कि_है उतनी_इज्जत_मेरे_दिल_मे मेरे_दोस्तो_कि_है_फर्क_सिर्फ_इतना_है_कि_खुदा_एक_कुदरत_ है_ओर_मेरे_दोस्त_मेरे_लिये_जन्नत


कितना महफूज़ था गुलाब…

कांटे की गोद में…….

लोगों की मोहब्बत में….

पत्ता-पत्ता बिखर गया………

 


प्यार मे वह पल बहुत खूबसूरत होता है,

 

जब देखना इबादत और छूना गुनाह लगता है…!!

 


💞सिर्फ़ छू कर यूँ बहक जाने को नही,

उतर कर रूह में महक जाने को इश्क़ कहते हैं. .💞

 


मेरा इश्क़ औरो सा नही है मैं तन्हा ज़ुरूर हूं पर इस दिल को तेरे सिवा किसी और की ज़ुर्रत नही…!!!

 


सजदों के बदले ,

फिरदौस चाहता है ,

कितना नादाँ है ,

इश्क़ में भी होश चाहता है…!!

 


मसला पाने का होता तो ख़ुदा से छीन लेता,,,

ख़्वाहिश तुझे चाहने का है, उम्र भर चलेगा…!!!

 


खुशी इस बात की थी कि तुमसे मिलूंगा,

ग़म इस बात का था कि आखरी बार।।

👸

 


डरते हैं तेरे बग़ैर कैसे गुज़रेगी

 

उम्र है आखिर कोई शाम तो नहीं…!!


मसला पाने का होता तो ख़ुदा से छीन लेता ,

ख़्वाहिश तुझे चाहने की है, उम्र भर चलेगी..!!!


बडी लम्बी खामोशी से गुजरी हूँ मै,

 

किसी से कुछ कहने की कोशिश मे…!!


इतनी सी ज़िंदगी हैं पर ख़्वाब बहुत हैं…

जुर्म का तो पता नहीं पर इल्ज़ाम बहुत हैं…!!

 


अज़ीज़ इतना ही रक्खो कि जी सँभल जाए

अब इस क़दर भी न चाहो कि दम निकल जाए…!!!


क़िरदार देख कर लोग मुरीद हो जाते हैं,

 

हम जबरदस्ती दिलों पर कब्ज़ा नहीं करते” …!!


नाराज तो नहीं थे तेरे जाने से,

 

मगर हैरान थे कि तुमने मुड़ कर भी नहीं देखा…!!


एक रात तो गुज़रती नही तेरे बिन…ज़िदंगी क्या ख़ाक गुज़रेगी…!!!


तलब ऐसी की साँसों  में बस लू तुझे…..ओर क़िस्मत ऐसी की देखने को भी मोहताज़ हू मैं…!!


मैं तुझे कुल्हड़ वाली

चाय पिला सकती हूँ,

मेरी जान ये जुगनू ,

सितारे,चांद ये सब झूठी बाते हैं…


उस ने कहा चायया मैं‘ ?

मैने बोला चायके साथ तुम‘ …!!!


Beautiful Dosti Shayari With Images

तू कहाँ हैं ,मेरे पास आ…

 

मै कहाँ हु मुझे पता चले….!!


ज़िन्दगी जैसी जलानी थी वैसे जला दी हमे …

अब धुऐ पर बहस कैसी और राख पर ऐतबार कैसा….!!


लफ्ज़ कम हैं

और तुम से मोहब्बत ज्यादा l

 

 

 


मोहब्बत मेरा दर्द और शायरी मेरी दवा है…

एक तरफ सुनसान राह और दूसरी ओर महफिल की वाह है।

💕😊💕

 


एक तूम हो कि मेरे नही हो रहे …बरना क्या कुछ नहीं हो रहा जमाने मे…!!


मेरे मिज़ाज़ की क्या बात करते हो जनाब

 

कभी कभी तो मैं खुद को भी जहर लगता हूँ…!!


उसके दिल पर भी, क्या खूब गुज़री होगी !

जिसने इस दर्द का नाम, मोहब्बत रखा होगा !!

 


हर मंदिर ,दरगाह की चौखट पर माथा टेका, फिर भी कोई और तुझे 7 फेरे लगा कर मुझसे छीन ले गया…!!


तुमको दे दी है इजाज़त

मेरी चोखट पर आने कि

माँगने से ना मिलूं तो…चुरा लो मुझको

 


ख्याल रखा करो अब तुम अपना ,

 

तुम अब सिर्फ अपने ही नही मेरे भी हो…!!


वो अल्फ़ाज़ ही क्या जो समझाने पड़े तुम्हें,

हमने मोहब्बत की है कोई वकालत नहीं…!!


 

सुकून और इश्क वो भी दोनो एक साथ..

रहने दो अब कोई अक्ल वाली बात करो..!

 


ये ठंडी हवाएं. बनारस की शाम,

वो अस्सी की चाय, घाट ,औऱ जान तुम हो मेरे साथ,😍

 


तुम्हें दिल में रखा था,

जरा सा दिल ही रख लेते।

 


बेख़ुदी है मस्तियाँ हैं….

है अजब दीवानगी….,

 

इश्क़ जैसा इस जहाँ में,

मैकदा कोई नहीं……

 


छुपाते हैं लोग इश्क़ को बदनामी,

की तरह……!!

वो इश्क़ ही क्या जो धुंधरू बांध,

नाच न सके मीरा की तरह….!!

 


मैं तेरी सोच में भी नहीं,

तू मुझे लफ्ज़ लफ्ज़ याद है।।

 


कैसे खुश रहते हैं ये तू आज बता दे,

 

या तो झूठ बोलना सिखा दे..

या फ़िर वो राज़ बता दे …!!


समझदारी तो मुझमे कभी आएगी नहीं,जो बाँट सको मेरी नादानियां तो साथ चलो😍😍😍😍


कभी-कभी लगता है मैं भी इश्क़ में डूब मरुँ, मगर क्या करूँ साहब चाय का कोई समुंदर नहीं होता…!!


महफ़िल-ए-तन्हाई सज़ाओ

तो कोई बात बने……😘

 

दौलत-ए-इश्क़ लुटाओ

तो कोई बात बने……😋

 

जाम गिलास से पीना

गवारा नही है हमें……🍻

 

आँखों से पिलाओ

तो कोई बात बने…..!!


किसी दिन तेरे वादों पर मर जाएंगे हम,

यूँ ही गुजरी तो गुजर जाएंगे हम..!!

 


मोहब्बत के बाद मोहब्बत  मुमकिन तो है साहब,लेकिन किसी को टूट कर चाहना एक ही बार हो सकता हैं…..!!


हम नादां थे जो उन्हें हमसफ़र समझ बैठे,

वो चलते थे मेरे साथ पर किसी और की तलाश में…!!


मै कुछ कहु तुम जानते नही हो…

 

ज़ख्म भरती हू मै भी तुम मानते नही हो…..

 

मालूम है धोखे मिले हैं पिछले प्यार मे तुमको…..,

 

मेरी वफ़ा तो जानते हो तुम …मगर मानते नही हो…..!!


हम तो मानते है पर ये दिल नही मानता,

आग का दरिया है पार करके जाना है।

 


ना जख्म भरे…

ना शराब सहारा हुए…

वो  ना बापस लौटे…

ना मोहब्बत दोबारा हुए…!!


काश कोई इस तरह भी बाक़िफ़ हो मेरी ज़िन्दगी से….

मैं बारिश में भी रोऊ और वो मेरे आंसू पढ़ ले…!!!


शहर के शहर बंद,

हर गली में नाकाबंदी है….

तुम पता नहीं किस रस्ते,

चले आते हो ख़्यालों में..??💞

 


खूबसूरत सी ज़िन्दगी की किताब मैं।

एक पन्ना खाली ही है तेरे जबाब मैं।😍

 


क्यों बनू किसी और जैसा…..

जब जमाने में कोई मुझ सा नहीं है….

 


तेरा नज़रे मिलना हुनर था मेरा नज़रे मिलना इश्क

मेरा शाम हो जाना हुनर था तेरा रात हो जाना इश्क

 


मैं तुमको भूल तो जाऊं मगर एक छोटी सी उलझन है,

सुना है दिल से धड़कन की जुदाई मौत होती है।।।

 


कुछ ज़ख्मो की कोई उम्र नही होती …

ताउम्र साथ चलते हैं जिस्म के खाक होने तक..!!


मैं ‘गलती’ करूँ तब भी मुझे

सीने’ से लगा ले….

कोई’ ऐसा चाहिये, जो मेरा हर

नखरा’ उठा ले….!!!


बेवक्त बेवजह बेहिसाब मुस्कुरा देती हूं

 

आधे दुश्मनों को तो यूं ही हरा देती हूं…!!


बेवजह परवाह मत किया करो इस जमाने की…

किसी को इतना भी मत चाहो की लत लग जाये मयख़ाने की…!!


वो मेरे हाल से अंजान है उसके दर पर सदा दे कोई ….

ये लोग बहुत मोहब्बत मोहब्बत कर रहे हैं इनका गला दबा दे कोई…!!


मोहब्बत ओर मेरी कभी बनी नही साहब….

वो गुलामी चाहती थी और हम बचपन से आज़ाद…!!


दो ही गबाह थे मेरी मोहब्बत के….

वक्त औऱ वो

एक गुजर गया दूसरा मुकर गया …!!

       


न जाने किस मिज़ाज का परिन्दा है यह दिल…

सीने मैं तो रहता है मगर वश में नहीं…!!

 


न जाने कितनी ही बारी काम ये हम कर जाते  हैं

तुमसे ही जिंदा होते हैं, तुम पर ही मर जाते हैं..!!!

 


फिजायें खुद बिखेरेंगी

महक मेरे दास्तां की,..

हवा में गुम हो जाये

वो खुशबू नही हूँ मैं…..!!

 


उसके इश्क़ को कुछ इस तरह

निभाते हैं हम,,,

वो नहीं है तक़दीर में फिर भी

उसे बेपनाह चाहते हैं हम,,😍

 


करम है आपका हर दिन,

मेरी शायरी को पढ़ते हो…

 

गुजारिश सिर्फ इतनी है,

किसी दिन मुझको भी पढ़ियेगा….!!

 


झुठ बोलकर तो मैं भी दरिया पार कर जाता,

मगर डूबो दिया मुझे सच बोलने की आदत ने…….!!!

 


तेरे जाने से सिर्फ इतना फर्क पड़ा पहले चहरे पर हँसी आती थी अब लानी पड़ती हैं…!!


फिर कोई ख़्वाब आँखों मे बुन ना सकोगें… हम जो सह रहे हैं आप वो सुन ना सकोगें…..!!


मैं क्या हु अगर ये बता दू तुझको तो.. हकीकत में मुझसे दूर हो जाओगे तुम…!!


Tum Kya Ho Mere Liye

Yeh Bata Nahi Sakte Mere

Likhe Alfasz In Kagaz Ke Tukdo Per

Padh Sako To Padh Lena

Meri Aankho Ki Kitaab Per


 

Meri Har Dhdkan Pukarti Hai

Sirf Tumahra Hi Naam

Sun Sako To Sun Lena

Mere Dil Ki Betaab

Dhadkano Ko


Tere Paas Aane Se

Mehak Uthti Hai

Meri Khoyi Hui Arzoo

Mehsoos Kar Sako

To Kar Lena

Meri Saanso Ki Kushboo Mein..


 

हाथ की लकीरों को देख कर आलिम बोला  तड़प तड़प कर मरोगे……

 

मैं मुस्करा कर बोली मर तो जाऊँगी ना…!


तेरे दिल मे मुझे ऐसी उम्र कैद मिले…..

थक जाए सारे__वक़ील मुझे…

ज़मानत ना मिले…..


तू पढ़ता  है इसलिए लिख देती हूं,

वरना में तो महसूस करके भी जी लेती हूं…!!


कुछ इस तरह उस फ़क़ीर ने ज़िन्दगी की मिसाल दी

मिट्ठी मे धूल ली औऱ हवा में उछाल दी…!!


तेरी मदहोश नज़रें बहकाती है मेरे कदम..

और लोग सोचते हैं देख कर नहीं चलते हम..

 


ज़ाम-ए-इश्क़ है साहब”

 

गमों का चखना ना मिले तो कमबख़्त मजा नहीं देता…!!


अल्फाजों की प्यास किसे कहते हैं….

 

हमें तो उसके “hmmm” से भी इश्क़ है…….!!!!!


गुम अगर सुई भी हो जाये तो दुख होता हैं औऱ हमने तो मोहब्बत में तुम्हे खोया है…!!


रहते हो होंठों पे ज़िक्र बन के,

दिल में हो तुम ही फ़िक्र बन के..

 

तुमसे ही तो मिला प्यार सारा,

क्या मुझमें है मेरा सब तुम्हारा…😘🥰

 


ग़म हूँ, दर्द हूँ, साज़ हूँ, या आवाज़ हूँ,

 

बस जो भी हूँ तुम बिन बहुत उदास हूँ…!!

Also Read. –  Sad Hindi Shayari For Love | सैड शायरी स्टेटस हिन्दी में

Attitude Shayari in Hindi | एटीट्यूड शायरी हिंदी में

Love Shayari Romantic Hindi | New Romantic Shayari In Hindi Best Collection For Your Love

Shayari English To Hindi On Love Lover Girlfriend Boyfriend

Pyar Wali Shayari & Pyar Bhari Ishq Mohabbat Shayari Collection

Shayari Hindi Me | Love Shayari In Hindi | लव शायरी | 2020

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here